आपको मकर संक्रांति की बहुत बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं

दिल से मैं आपको और आपके परिवार को मकर संक्रांति की बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूं

किसान ब्याकुल है फसल की कटाई में  आप मगन हो पतंग के साथ उड़ने में  ईश्वर से दुआ है मेरी  खुशियां बरक़रार रहे उत्तरायण में

मौसम के बाद आये मौसम अनेक  पतझड़ के बाद आये खुशियां अनेक।    मकरसंक्रांति बस नाम ही काफी है  बांटती है मुस्कान होटों पे अनेक।

ठण्ड का महीना अपने चरम पे है  गर्मिया आने को बेक़रार है  मेरे आपसे बस यही गुजारिश है  हमेशा जुड़े रहो पतंग की डोर के जैसे

उड़जा ये पतंग दूर गगन तक  लौटा दे  मेरे वो बचपन के दौर  मुस्कान बिखेर दे हर एक होठों पर  शुबकामनाएं मेरे मकर संक्रांति पर।